जिला प्रशासन अवधारणा तथा उद्भव (भाग – 4)

  1. ब्रिटिश काल में जिलाधीश वर्तमान समय के जिलाधीश से किस प्रकार शक्तिशाली था?
    • उस समयजिलाअधिकारी के पास नए अधिकार भी होते थे।
    • ब्रिटिश काल में जिला अधिकारी की राजस्व अधिकारी का कार्य करता था।
    • वर्तमान समय में जिला अधिकारी के कार्य
    • जिले का प्रशासन चलाना
    • जिला नियोजन परिषद के मुखिया के रूप में
    • जिला आपदा प्रबंधक समिति के मुखिया के रूप में
    • जिले में कल्याण कार्यक्रमों को लागू करने में
    • सरकार के प्रतिनिधि के रूप में जनसंपर्क की दिशा में
    • जिला निर्वाचन अधिकारी के रूप में
    • जिला जनगणना अधिकारी का कार्य करना
    • सार्वजनिक वितरण प्रणाली को सुव्यवस्थित रूप से चलाने में
    • जिला के कल्याण कार्यक्रमों को लागू करने में
  2. जिला प्रशासन को भारत की प्रशासनिक इकाई होने के कारण है?
    • क्षेत्रीय प्रशासन की इकाई का जिला है।
    • नागरिकों तथा सरकार के बीच एक संपर्क सूत्र का कार्य जिला प्रशासन ही करता है।
    • यह प्राचीन काल से विद्यमान है था।
  3. ब्रिटिश काल की तुलना में आधुनिक समय जिलाधिकारी का महत्व कम हो गया है
    • विकेंद्रीकरण नियोजन में स्थानीय निकायों की भूमिका में संवैधानिक मान्यता प्राप्त होने के कारण
  4. सही कथन जिलाधिकारी के बारे में
    • जिलाधिकारी ही जिले का वार्षिक प्रशासनिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करता है।
    • वह चुनाव के समय राज्य चुनाव आयुक्त के समन्वयकर्ता के रूप में कार्य करता है।
    • जनगणना के समय जिला जनगणना अधिकारी के रूप में जिलाधिकारी ही प्रमुख होता है।
  5. भारत के जिला कलेक्टर को अनेक कर्तव्योंऔर उत्तरदायित्व का निर्वाहकरना होता है।
    • जिला प्रशासन के रूप में
    • जिला न्यायाधीश के रूप में

जिला प्रशासन अवधारणा तथा उद्भव (भाग – 3)

  1. सही कथन
    • जिला जनगणना अधिकारी के रूप में जिलाधिकारी 10 वर्ष में एक बार जिले में जनगणना कार्य के लिए उत्तरदायी होता है।
    • अनेक प्रकार के लाइसेंस की स्वीकृति देना है जिला मजिस्ट्रेट का कार्य नहीं है
  2. एक कलेक्टर के रूप में जिला अधिकारी के कार्य
    • सरकारी संपत्ति का प्रबंध
    • भू-राजस्वकार्य स्वीकृत करना
  3. सही कथन
    • भारत में जिलाधिकारी ही कलेक्टर के रूप में अग्निकांड, सूखा, बाढ़ इत्यादि आपदाओं में राहत उपाय करता है।
    • राष्ट्रीय विपत्तियां फसल हानि का आकलन तथा राहतप्रस्तुत करता है।
    • पैराले पर कैदियों को मुक्ति देने का कार्य भी करता है।
    • कैदियों की सजा समाप्ति से पूर्व ही मुक्ति दे सकता है।
  4. सुमेलित
    • राजस्व बोर्ड             –                 1786
    • नगर निगम               –                 1687
    • संभागीय आयुक्त         –                 1829
    • जिलाधीश                –                 1772
  5. जिला प्रशासन का ढांचा एक पदसोपानिक कर्म में संगठित होता है।
    • जिला स्तर पर प्रशासनिक मुख्यालय
    • किसी अन्य स्थान पर उपखंडमुख्यालय
  6. सही कथन
    • जिला अधिकारी ही आपदाओं के समय राहत कार्य पहुंचाने का जिम्मेदार है।
    • आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत जिला कलेक्टर को जिला आपदा प्रबंधन का अध्यक्ष बनाया गया।
    • वन विकास हेतु योजनाएंसंस्तुतकरने के लिए पंचायत अधिकारी निश्चित करता है।
    • जिला विकास अधिकारी के रूप में योजना समिति के माध्यम से जिले की विकास योजना बनाता है।
  7. जिला प्रशासन के अधिकारियों के तीन स्तर पाए जाते हैं, प्रथम स्तर के अंतर्गत आते हैं
    • जिला कृषि अधिकारी
    • जिलाधीश
  8. सुमेलित
    • जिला राजस्व अधिकारी                 –                 तमिलनाडु
    • अपर जिला मजिस्ट्रेट                    –                  उत्तर प्रदेश
    • जिला विकास अधिकारी                –                  गुजरात
    • मुख्य कार्यकारी अधिकारी              –                 महाराष्ट्र
  9. 1984 में अहमदनगर के तत्कालीन कलेक्टर द्वारा किया गया लाखीना पैटर्न क्या था?
    • कार्यालय प्रक्रिया को सरल करना जिसमें फाइलें और रिकॉर्ड आसानी से उपलब्ध हो सके।
    • इसका मुख्यध्येय जिला प्रशासन को दायित्व पूर्ण बनाना है।

मुख्य कार्यकारी के कार्य

  1. सरकारिया आयोग के बारे में
    • इस कार्यपालक अधिकारी के नियंत्रण में जिले का विकास संबंधी समस्त प्रशासन रहेगा।
    • अशोक मेहता समिति में जिला स्तर पर मुख्य कार्यपालक अधिकारी का पद निर्मित करने की सिफारिश की।
  2. सही कथन
    • डिस्ट्रिक्ट शब्द की उत्पत्ति लेटिन भाषा से हुई है।
    • डिस्ट्रिक्ट शब्द का प्रथम प्रयोग वर्ष 1776 में हुआ।
    • 2 अक्टूबर 1980 को पूरे देश में समन्वित विकास कार्यक्रम के नाम से एक नया कार्यक्रम शुरू किया गया जिसका उद्देश्य गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों का कल्याण करना था।
    • जिला स्तर पर गठित जिला ग्रामीण विकास एजेंसी का अध्यक्ष प्रत्येक जिले में कलेक्टर को बनाया गया है।
  3. जिला ग्रामीण विकास एजेंसी (DRDA) के बारे में
    • जिला ग्रामीण विकास एजेंसी कार्यक्रम की शुरुआत 1 अप्रैल 1999 से की गई।
    • इसके अंतर्गत ग्रामीण विकास को मजबूती प्रदान करने और उन्हें अपने कामकाज में अधिक व्यवसायिक बनाना शामिल है।
    • जिला ग्रामीण विकास एजेंसी में एक पूर्णकालिक कार्यकारी अधिकारी होता है जोसामान्यतया वरिष्ठ भारतीय प्रशासनिक सेवा का राज्य प्रशासनिक सेवा का समक्ष अधिकारी होता है।
    • जिला ग्रामीण विकास एजेंसी को राज्य सरकार के पास निर्धारित प्रक्रिया से विवरण भेजना होता है।
  4. सुमेलित
    • असम                      –                 उत्तरी कछाड़ पहाड़ी जिला
    • मेघालय                  –                 त्रिपुरा जनजातीय क्षेत्र जिला
    • त्रिपुरा                      –                  खासी पहाड़ी जिला
    • मिजोरम                  –                 चकमा जिला
  5. सही कथन
    • जिला उद्योग केंद्र DRDA की तकनीकी शाखा नहीं है।
    • मनरेगा में 150 दिन का रोजगार देने की गारण्टी दी गई है।
  6. सुमेलित
    • गारो पहाड़ी जिला                –                 मेघालय
    • मारा जिला                         –                  मिजोरम
    • त्रिपुरा जनजातीय क्षेत्र जिला –                 त्रिपुरा
    • कार्बी आंगलांग जिला            –                 असम